आचार संहिता का उल्लंघन करने पर युनुस खान को मिल सकता है नोटिस

राजस्थान में आज हो रहे विधानसभा चुनाव में जो सीट सबसे ज्यादा चर्चा में है, उसमे टोंक सीट भी शामिल है. इस सीट पर कांग्रेस के सचिन पायलट और भाजपा के युनुस खान के बीच कड़ा मुकाबला है. लेकिन मतदान से एक दिन पहले बिना अनुमति प्रेसवार्ता करने पर युनुस खान को चुनाव आयोग से नोटिस मिल सकता है.

भाजपा प्रत्याशी युनुस खान ने गुरुवार शाम एक होटल में प्रेसवार्ता की जिसके बारे में उनकी तरफ से पहले निर्वाचन आयोग को जानकारी नहीं दी गई थी. इस प्रेस वार्ता में युनुस खान के साथ सांसद सुखबीर सिंह जोनापुरिया, विधायक अजीत मेहता और भाजपा जिला प्रवक्ता ओम प्रकाश गुप्ता भी मौजूद रहे.

निर्वाचन विभाग के अनुसार मतदान से 48 घंटे पूर्व राजनैतिक उद्देश्य से प्रेस वार्ता करना आचार संहिता के नियमों का उल्लंघन माना जाता है. कांग्रेस प्रत्याशी सचिन पायलट ने इस बारे में चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करवाई है. कांग्रेस द्वारा की गई शिकायत में प्रेसवार्ता के साथ कार्यकर्ताओं द्वारा नारेबाजी करने की भी बात कही गई है जो कि चुनाव आयोग के निर्देशों का उल्लंघन है.