बहरोड़ में इस तरह से साजिश रचकर थाने से छुड़ा ले गये गैंगस्टर को

190

अलवर जिले के बहरोड़ पुलिस थाने में शुक्रवार प्रातकाल 9बजे करीब एक दर्जन बदमाशों ने अंधाधुन फायरिंग की।और साथी बदमाश विक्रम उर्फ पपला को हवालात से छुड़ा ले गए।गिरफ्तार बदमाश पपला को पुलिस ने रात्रि करीब तीन बजे नाकाबंदी में गिरफ्तार किया था।जिसके पास लाखों रुपयों की नगदी भी पुलिस को मिली।नाकाबंदी के दौरान पुलिस ने बदमाश पपला को सनदिग्द अवस्था में हिरासत में लिया था।और स्कार्पियो गाड़ी जब्त कर बदमाश को हवालात में बंद कर दिया था।सुबह बहरोड़ पुलिस थाने पर दो कारों में करीब एक दर्जन हथियारों से लैस बदमाश सवार होकर आए।और थाने में घुसकर दो दर्जन से अधिक फायर किए।इस दौरान पुलिस ने बदमाशों का मुकाबला करने की बजाय छुप छुप कर जान बचाई।इस वजह से कोई जन हानि नही हुई।बदमाशों ने थाने में घुसने के बाद कहा बताया कि पहले पुलिसकर्मियों को गोली मारो,उसके बाद हवालात तोड़ो।घटना के तत्काल बाद पुलिस बदमाशों के पीछे लगी।स्थानीय लोगों ने बहरोड़ को अपराध का गढ़ होना बताया।और घटना की घोर निंदा की।

हवालात के ताले को गोली मारकर तोड़ा।थाने की दीवारों पर करीब एक दर्जन गोलियों के निशान मिले।पुलिस ने खाली कारतूसों को ढूंढ ढूंढ कर इकट्ठे किए।बदमाशों के पास अत्याधुनिक हथियार थे।AK47 जैसे हथियार माने गए।

घटना के तत्काल बाद एसपी अमनदीप सिंह कपूर व एएसपी तेजपाल सिंह बहरोड़ थाने पहुचें।उसके बाद जयपुर रेंज आईजी एस सेंगाथिर थाने पहुचें।आईजी व एसपी ने घटनक्रम का बारीकी से निरीक्षण किया।हवालात का निरीक्षण कर एफएसएल टीम के लिए सील किया।और सीसीटीवी कैमरे में कैद घटनाक्रम व गतिवीदियों की जांच की।

पुलिस ने रात्रि नाकाबंदी में एक ही बदमाश को हिरासत में लिया था।बाकी बदमाश भागने में सफल हो गए थे।उसके कुछ घण्टो बाद बदमाशों ने पुलिस थाने पर धावा बोला था।हिरासत में लेने से पहले ये बदमाश आसपास के क्षेत्र में वारदात कर बहरोड़ में घुसे थे।इस वजह से नाकेबंदी चल रही थी।

हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले का बदमाश विक्रम उर्फ पपला की गैंग हरियाणा की कुख्यात बदमाश कुलदीप उर्फ चीकू गैंग से जुड़ी हुई है।पपला के खिलाफ विभिन्न पुलिस थानों में करीब एक दर्जन मुकदमें दर्ज है।जिसमें मर्डर,हाफ मर्डर,आर्म्स एक्ट जैसे मामलें शामिल है।पपला पर विभिन्न थानों से लाखों रुपयों का इनाम घोषित था।

घटना के बाद पुलिस ने कोटपूतली,जयपुर,अलवर,हरियाणा में नाकेबंदी कराई।तथा हरियाणा पुलिस के उच्च अधिकारियों को घटना के बारे में अवगत कराया गया।बदमाश पपला हरियाणा पुलिस के लिए सर दर्द बना हुआ है।जिसने हरियाणा में एक पुलिस अधिकारी की भी हत्या की थी।

पुलिस हिरासत में होने के बावजूद भी रात्रि को पुलिस पपला से अनभिज्ञ थी।सिर्फ सनदिग्द अवस्था में हिरासत में लिया था।पुलिस को सुबह पता लगा कि यह सनदिग्द पपला नाम का एक कुख्यात बदमाश है।

बदमाशों के पीछे पुलिस की एक दर्जन से अधिक टीमें लगी हुई है।जिसमें पुलिस के उच्च अधिकारी व थानों के थानाधिकारी लगें हुए है।

घटना के दौरान बदमाश कई जगहों पर गाड़ी छोड़कर दूसरी गाड़िया छीनकर फरार हुए।पुलिस पीछा करने पर मुंडावर में भी आई 10 कार को छोड़ा।और दूसरी गाड़ी लूटकर फरार हुए।बाद में पुलिस द्वारा बदमाशों को चारों तरफ से घेरने पर बदमाशों ने गाड़िया छोड़कर पैदल भागना शुरू किया।

कुख्यात पपला को हवालात में बंद करने के बाद पुलिस ढीली रही।थाने को सुरक्षा की दृष्टि से नहीं देखा।अन्यता हिरासत में लेने के बाद थाने का बड़ा दरवाजा बंद किया जा सकता था।और पुलिस प्रहरियों को अलर्ट रहना था।ऐसे में घटना टल सकती थी या फिर बदमाशों से मुकाबला किया जा सकता था।

जानकारी अनुसार बदमाशो की गैंग क्षेत्र में किसी दूसरी गैंगवार से सम्बंधित बड़ी वारदात को अंजाम देना चाह रही थी।लेकिन नाकाबंदी में बदमाश पपला को हिरासत में लेने की वजह से गैंग टूट गई।बहरोड़ क्षेत्र में कई बड़ी घटनाए हो चुकी है।गत दिनों हिस्ट्रिसिटर जसराम गुर्जर की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी थी।उससे पहले वाइस चेयरमैन राकेश शर्मा व पार्षद त्रिलोका मर्डर हो चुका है।

घटना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने डीजीपी को तलब किया।तथा घटना की जानकारी ली।

विधायक बलजीत यादव ने घटना की निंदा कर पुलिस को कायर बताया।पुलिस पर थाने में बदमाशों से मुकाबला नहीं करने के आरोप लगाए।मुकाबला करने की बजाय पुलिस अपनी जान बचाने में लगी रही।घटना के बारे में सीएम को भी अवगत कराया गया है।

आईजी एस सेंगाथिर ने बताया कि बहुत गम्भीर घटना है,विभाग के लिए चुनोतिपूर्ण है,बदमाशों को बेहतर तरीके से जवाब देंगे।नाकाबंदी में एक गाड़ी छोड़कर बदमाश पैदल भागे है।दो सनदिग्द गाड़िया भी कब्जे में ली है।बेहतर तरीके से पुलिस कार्य में जुटी हुई है।थाने की कमियों पर जांच की जाएगी।बदमाशों ने थाने में अत्याधुनिक हथियारों से करीब 25 फायर किए।बदमाशों की संख्या दस से ज्यादा थी।हरियाणा पुलिस हमारे साथ है।सूचना अनुसार बदमाश पपला पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था।