PCC में कांग्रेस की बैठक में विधायकों,महापौर और ब्लॉक अध्यक्षों की ग़ैर मौजूदगी से भड़क गए प्रताप सिंह

मंत्री प्रतापसिंह ने कहा- किसी को ग़लत फ़हमी पालने की ज़रूरत नहीं है मैं मंत्री बनने के बाद भी सड़कों पर आंदोलन कर रहा हूँ

कांग्रेस के आंदोलन हो या संगठन चुनाव की रणनीति प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी नेताओं विधायकों ब्लॉक अध्यक्षों और पार्षदों को बुलाना एक बड़ी चुनौती बनता जा रहा है। कुछ दिन पहले नेताओं की गैरहाजिरी को लेकर पीसीसी चीफ़ नाराज़ हुए थे और आज एक बार फिर से इसी तरह के हालात कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह के सामने नज़र आए।
पीसीसी मुख्यालय में बुलाई गई शहर कांग्रेस की बैठक में कांग्रेस के अधिकांश पार्षद, पार्षद प्रत्याशी और ब्लॉक अध्यक्षों के गैरहाजिर रहने पर शहर कांग्रेस के निवर्तमान अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास भड़क गये। प्रताप सिंह खाचरियावास ने गैरहाजिर नेताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि ऐसा नहीं चलेगा पार्षदों और ब्लॉक अध्यक्षों को गलतफहमी हो गई है, किसी को भी गलतफहमी नहीं रहनी चाहिए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि इतनी महत्वपूर्ण बैठक में भी जयपुर हेरिटेज और ग्रेटर दोनों से मिलाकर 21 पार्षद पहुंचे हैं। 16 ब्लॉक अध्यक्षों में से केवल 9ही बैठक में आए और महापौर भी बैठक में नहीं पहुंची। गैर हाजिर रहने की कोई वजह भी नहीं बताई गई इस तरह का व्यवहार सही नहीं है। प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि पार्षद बनते ही सब अपने आप को नेता समझने लगते हैं लेकिन ऐसा नहीं चलेगा। ऐसे नेता नहीं बनते हैं मैं मंत्री बनने के बावजूद आज भी सड़कों पर संघर्ष करता हूं, आंदोलन करता हूं। अगर कांग्रेस पार्टी जिंदा रहेगी तो हम जिंदा रहेंगे इसलिए किसी को गलतफहमी नहीं पालनी चाहिए। कैबिनेट मंत्री महेश जोशी, विधायक अमीन कागजी, रफीक खान और गंगा देवी भी बैठक से गैरहाजिर रहे। जिस पर प्रताप सिंह खाचरियावास ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि कांग्रेसी कार्यकर्ता तो पहुंच गए, लेकिन नेता बैठक में नहीं आए। इस पर मैं तो कुछ नहीं कह सकता लेकिन उन्हें ही इस पर जवाब देना चाहिए।प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि जो संघर्ष करेगा वह आगे बढ़ेगा। सभी को इसके लिए तैयार रहना चाहिए। बीजेपी के झूठ का पर्दाफाश करना चाहिए और जनता के मुद्दों पर सड़कों पर उतरना चाहिए। संगठन चुनाव को लेकर बुलाई गई बैठक में डीआरओ सतीश शर्मा, समाज कल्याण बोर्ड की चेयरमैन अर्चना शर्मा और सांगानेर से कांग्रेस प्रत्याशी रहे पुष्पेंद्र भारद्वाज मौजूद रहे।

Related articles

Comments

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.