Marriage तभी जब लड़का लाएगा मछली के दांत ?

हमारे पेरेंट्स को अक्सर उनके बच्चों की Marriage के बारे में चिंता होती है। इसका कारण है कि शादी एक बड़ा समाजिक और पारिवारिक उत्सव होता है जिसमें अधिकतर लोगों को बुलाया जाता है और अधिकतर खर्च होते हैं। इसलिए लोग अपने बच्चों की शादी की आयोजन के लिए समय से पहले तैयारी शुरू करते हैं।

Marriage के नियम और रिवाज भिन्न-भिन्न

भारत में Marriage के नियम और रिवाज भिन्न-भिन्न होते हैं और इनका पालन भी विभिन्न होता है। जैसे कि उत्तर भारत में शादी में बड़े पैमाने पर खर्च किए जाते हैं जबकि दक्षिण भारत में शादी के रस्म और रिवाज थोड़े सरल होते हैं। भारत में धर्म, जाति और क्षेत्र के आधार पर भी Marriage के नियम और रिवाज भिन्न-भिन्न होते हैं लेकिन दुनिया के हर देशों में अलग-अलग परंपराओं से शादी होती है।

Also see :Ajab- Gajab: दुनिया का सबसे महंगा Watermelon, खरीदने में हो जाएगी जेब खाली !

फिजी की शादी में होने वाले अनोखे रिवाज

Marriage से जुड़े रिवाज विभिन्न देशों और संस्कृतियों में भिन्न होते हैं लेकिन अधिकतर देशों में शादी बहुत अहम मानी जाती है और शादी सम्बन्धित रिवाजों को पूरा किए बिना शादी मानी नहीं जाती है। दरअसल, हम आपको फिजी की शादी में होने वाले अनोखे रिवाज से वाकिफ करवाना चाहते हैं। यहां लड़के को स्पर्म व्हेल का दांत लेकर आना होता है तब ही लड़की के घरवाले शादी के लिए राजी होते हैं।

Marriage में स्पर्म व्हेल मछली के दांत का उपयोग

फिजी दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित एक छोटा सा द्वीप है और यह देश विभिन्न पारंपरिक रिवाजों और संस्कृतियों से भरा हुआ है। Marriage में स्पर्म व्हेल मछली के दांत का उपयोग एक पुराना रिवाज है जो फिजी में अभी भी प्रचलित है। जिसके लिए लड़के को एक व्हेल मछली के दांत से बना हुआ हार देना होता है जो बोलोका नाम से जाना जाता है.

फिजी में बड़े महत्व का प्रतीक है

इस हार को लड़कीवालों को भेंट करना होता है, जो इसे स्वीकार करते हुए Marriage को स्वीकार करते हैं। यह हार फिजी में बड़े महत्व का प्रतीक है और शादी के रस्मों में एक अहम भूमिका निभाता है। फिजी में स्पर्म व्हेल के दांतों को टाबुआ कहा जाता है और इसे पवित्र माना जाता है। यह एक महत्वपूर्ण रिवाज है जो फिजी की संस्कृति और परंपराओं का हिस्सा है।

एक किलो वजन के लिए लाखों रुपए तक का भाव

टाबुआ गिफ्ट के बाद ही लड़की के घर वाले लड़की का हाथ लड़के के हाथ में सौंपते हैं और इस प्रकार Marriage की रस्म पूरी होती है। बता दें कि इसे पाना बेहद ही मुश्किल होता है और इसकी कीमत भी बहुत ज्यादा होती है। इसकी कीमत गुणवत्ता, आकार और उम्र के आधार पर निर्धारित की जाती है। इसलिए इसकी कीमत मार्केट में अलग-अलग होती है और कभी-कभी एक किलो वजन के लिए लाखों रुपए तक का भाव भी हो सकता है।

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.