“शु़द्ध के लिए युद्ध अभियान“ के तहत दुकानों का निरीक्षण

जैसलमेर। शहर में खाद्य पदार्थों में मिलावट और रियूज्ड तेलों की गुणवत्ता को लेकर शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत विशेष सैंपल कलेक्शन का काम किया जा रहा है। शहर में खाद्य तेलों में मिलावट की शिकायतों के बाद चिकित्सा विभाग ने यह अभियान चलाया है। अभियान के तहत 18 नमकीन और कचौरी विक्रेताओं के वहां निरीक्षण किया गया। इसके साथ ही उन्हें साफ-सफाई रखने को लेकर विशेष दिशा निर्देश दिए।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बी.एल.बुनकर ने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिकारी प्रवीण चोधरी के नेतृतव में अपमिश्रित खाद्य पदार्थों की बिक्री पर नियत्रंण के लिये जैसलमेर शहरी क्षैत्र में निरीक्षण किया गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी प्रवीण चौधरी ने खाद्य कारोबारियों को बताया कि एफएसएसएआई की गाईडलाईन अनुसार उपयोग में लिये गये खाद्य तेल को 3 बार से ज्यादा गर्म नही करें। अधिक बार गर्म किया हुए तेल में हानिकारक ट्रांस फैट की मात्रा अत्यधिक बढ जाती है। जिसके उपयोग से मोटापा, डायबिटिज, हृदृय रोग, हार्ट अटैक, खून में कॉलेस्ट्रोल बढना, स्ट्रोक्स, एसीडीटी आदि स्वास्थ्य संबंधी समस्याए हो जाती है।

साथ ही खाद्य सुरक्षा अधिकारी प्रवीण चौधरी ने सम क्षैत्र के 10 रिसोर्ट का आकस्मिक निरीक्षण कर फूड लाइसेंस पंजीकरण, हाईजनिक स्थिति का निरीक्षण किया। सीएमएचओ डॉ बुनकर ने बताया कि जिले के जिन खाद्य कारोबारियों ने खाद्य अनुज्ञा पत्र नही ले रखा है एवं जिनका खाद्य अनुज्ञा पत्र अवधिपार हो चुका है, अविलम्ब अपना खाद्य अनुज्ञा पत्र बनवायें । अन्यथा उनके खिलाफ एफएसएसएआई की धारा 63 के अंतर्गत नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.