शिक्षण के क्षेत्र में बनाना चाहते हैं करियर, तो तुरंत करें आवेदन

अगर आप उच्च शिक्षण संस्थानों में नौकरी की संभावना तलाश कर रहे हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत जरूरी है. दिल्ली विश्वविद्यालय और पंजाब विश्वविद्यालय ने बंपर भर्तियां निकाली है. दिल्ली विश्वविद्यालय के श्याम लाल कॉलेज 106 फैकेल्टी पदों पर भर्ती निकाली है. तो वही पंजाब विश्वविद्यालय ने 54 सेकंड पदों पर भर्ती निकाली है.

श्याम लाल कॉलेज में 106 फैकल्टी पदों पर भर्ती

दिल्ली विश्वविद्यालय के श्याम लाल कॉलेज में 106 फैकल्टी पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है. इच्छुक और योग्य उम्मीदवार 4 जनवरी 2023 तक आवेदन कर सकते हैं. उम्मीदवारों द्वारा कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है.

दिल्ली विश्वविद्यालय ने इन पदों पर निकाली गई भर्ती

दिल्ली विश्वविद्यालय के श्याम लाल कॉलेज में 106 पदों पर भर्ती निकाली गई है. इसमें बॉटनी के 3 पद, केमिस्ट्री के 12 पद, कॉमर्स के 27 पद, कंप्यूटर साइंस के 5 पद, इकोनॉमिक्स के 9 पद, इंग्लिश के 8 पद, हिंदी के 7 पद, हिस्ट्री के 3 पद, मैथमेटिक्स के 11 पद, फिजिक्स के 9 पद, पॉलिटिकल साइंस के 12 पद रखे गए हैं. इसके साथ ही दिल्ली विश्वविद्यालय ने पदों पर भर्ती की विस्तृत योग्यता और आवेदन के समय लगने वाले शुल्क की विस्तृत जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की है.

पंजाब विश्वविद्यालय में 54 फैकेल्टी पदों पर होगी भर्ती

पंजाब विश्वविद्यालय में 54 सेकंड के पदों पर भर्ती आवेदन प्रक्रिया जारी है. योग्य अभ्यर्थी 13 जनवरी 2023 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. साथी आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी 20 जनवरी 2023 तक विश्वविद्यालय में जमा करवानी होगी कुल पदों में 40 पद असिस्टेंट प्रोफेसर के होंगे साथी 14:00 पर एसोसिएट प्रोफेसर के होंगे. असिस्टेंट प्रोफेसर और एसोसिएट प्रोफेसर पदों के लिए अंतिम रूप से चयनित उम्मीदवारों को वेतनमान 15600-39100+ जीपी 6000/- और 37400-67000 + जीपी 9000/- (असंशोधित) क्रमशः दिया जायेगा.

भर्ती के लिए यह रखी गई योग्यता

पंजाब विश्वविद्यालय ने 54 पदों पर होने जा रही इस भर्ती की योग्यता निर्धारित की है. उपरोक्त पदों के लिए 55 फीसदी के साथ मास्टर डिग्री,पीएचडी सहित कुछ अन्य शैक्षणिक योग्यता रखने वाले उम्मीदवार अधिसूचना में उल्लेखित अतिरिक्त योग्यता के साथ संबंधित विषयों में डिग्री विशेषज्ञता के साथ आवेदन कर सकते हैं. यह सभी योग्यताओं को पूरा करने के अलावा उम्मीदवार को UGC या CSIR द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) या यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त इसी तरह की परीक्षा जैसे एसएलईटी,एसईटी या जिन्हें पीएचडी डिग्री से सम्मानित किया गया है. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (एम.फिल/पीएचडी डिग्री प्रदान करने के लिए न्यूनतम मानक और प्रक्रिया) विनियम 2009 या 2016 के साथ और समय-समय पर उनके संशोधनों को नेट,स्लेट,सेट से छूट दी जा सकती है.

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.