कोटपूतली में रेप पीड़िता पर हमला करने का मामला: पुलिस से बचकर भागते समय मुख्य आरोपी ट्रेन की चपेट में आया, एक पैर कटा

चौक टीम, जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर से अलग होकर बने नए जिले कोटपूतली-बहरोड़ इलाके से एक बलात्कार पीड़िता को कथित तौर पर गोली मारने और धारदार हथियार से हमला करने का भयावह मामला सामने आया है। लड़की अपने भाई के साथ स्कूटी पर घर जा रही थी, उसी दौरान प्रागपुरा थाना क्षेत्र में शनिवार देर रात तीन आरोपियों ने कथित तौर पर उस पर बेरहमी से हमला किया। लड़की को गंभीर चोटें आई। शुरुआत में उसे बहरोड़ कोटपूतली इलाके के सीएचसी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे जयपुर के सवाई मान सिंह अस्पताल में रेफर कर दिया गया।

आरोपी को पुलिस ने जयपुर में पकड़ा

वहीं आज रेप पीड़िता पर हमला करने वाले आरोपी को पुलिस ने जयपुर में पकड़ लिया है। आरोपी राजेंद्र यादव प्रागपुरा थाने से 20 मीटर दूरी पर ही रेप पीड़िता और उसके भाई पर जानलेवा हमला करके फरार हो गया था। आरोपी राजेंद्र यादव ने पुलिस से बचने के लिए रेलवे लाइन को पार कर भाग रहा था। इस दौरान ट्रेन आ गई और वह उसकी चपेट में आ गया। ट्रेन की चपेट में आने से आरोपी राजेंद्र यादव का एक पैर कट गया। उसे लहूलुहान हालत में एसएमएस ट्रोमा सेंटर में भर्ती करवाया गया है। जहां आरोपी का इलाज चल रहा है।

दरअसल, जून 2023 में प्रागपुरा की रहने वाली युवती के साथ आरोपी राजेंद्र यादव ने रेप किया था। आरोपी राजेंद्र यादव रेप के आरोप में जेल भी जा चुका है। जेल से बाहर आने के बाद केस वापस लेने का दबाव डाल रहा था। पीड़िता ने अपने साथ हुई हैवानियत को लेकर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई। कुछ दिनों बाद पीड़िता ने फिर प्रशासन को शिकायत करते हुए बताया कि आरोपी उससे मारपीट, अश्लील फोटो और वीडियो वायरल करने और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

लड़की के परिवार ने लगाई थी सुरक्षा की गुहार

इस घटना के बाद गुस्साए कई ग्रामीणों ने थाने की घेराबंदी कर दी और पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए। डीएसपी द्वारा किसी तरह ग्रामीणों को शांत कराया गया। नवंबर 2023 में लड़की के परिवार ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई थी लेकिन कथित तौर पर कोटपूतली बहरोड़ इलाके के प्रागपुरा पुलिस थाने ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। पुलिस के मुताबिक, इस मामले में एक सहायक उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है।

डीजीपी बोले, पुलिस की लापरवाही की जांच होगी

डीजीपी यूआर साहू ने इस पूरे मामले को लेकर आईजी और एसपी को जांच करने के लिए कहा गया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी राजेंद्र यादव को पकड़ लिया है। वहीं एक आरोपी को भी पकड़ लिया गया है। जिसने युवती पर फायरिंग की थी। अगर इस मामले में किसी भी पुलिसकर्मी की लापरवाही सामने आई तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की लापरवाही को लेकर आईजी को जांच के लिए कहा गया है। विशेष टीमें गठित की गई हैं, मेरे स्तर पर इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है।

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.