बीजेपी का ‘मिशन 25’ पर मंथन पूरा, इन 10 सीटों पर नए चेहरे उतारेगी पार्टी; जानिए पूनिया-राठौड़ को कहां से मिल सकता है टिकट?

चौक टीम, जयपुर। राजस्थान में भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव में प्रदेश की सभी 25 सीटों को पांच लाख से अधिक वोटों से जीतने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य का पाने के लिए भाजपा की जयपुर और दिल्ली में कई बैठके हो चुकी है। भाजपा अपने ‘मिशन 25’ पर मंथन पूरा कर चुकी है। इसको लेकर कल दिल्ली में केन्द्रीय चुनाव समिति की भी बैठक भी हुई थी। अब बताया जा रहा है कि किसी भी वक्त भाजपा की पहली सूची जारी हो सकती है। सूत्रों की मानें तो तो पहली सूची में राजस्थान की 10-12 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा हो सकती है।

इन 10 सीटों पर नए चेहरे उतारेगी पार्टी

सूत्रों के मुताबिक बीजेपी इस बार 25 लोकसभा सीटों में से करीब 10 सीटों पर चेहरा बदलने जा रही है। बता दें उदयपुर, भरतपुर, बांसवाड़ा-डुंगरपुर, दौसा, जालौर-सिरोही, अजमेर, जयपुर ग्रामीण, राजसमंद, झुंझुनूं, अलवर, टोंक-सवाई माधोपुर सीट से पार्टी इस बार नए चेहरे लड़ाने का निर्णय लिया है। ऐसे में माना जा रहा है कुछ सीटों पर विधानसभा में हार का सामना कर चुके पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ प्रदेश संगठन के कुछ पदाधिकारियों को चुनावी मैदान में उतारकर चौंकाया जा सकता है।

क्योंकि राजसमंद सांसद रहीं दीया कुमारी, जयपुर ग्रामीण सांसद रहे कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और अलवर सांसद रहे बाबा बालकनाथ विधायक बन चुके हैं। ऐसे में राजसमंद, जयपुर ग्रामीण और अलवर लोकसभा सीट पर नए उम्मीदवार खड़े किए जाएंगे। इसके अलावा 3 सीटों के सांसद राजस्थान विधानसभा चुनाव हार गए थे। इस कारण जालोर-सिरोही से देवजी पटेल, अजमेर से भागीरथ चौधरी और झुंझुनूं से नरेंद्र कुमार खींचड़ को फिर से टिकट मिलने पर संशय है।

साथ ही उदयपुर से अर्जुन लाल मीणा, भरतपुर से रंजीता कोली, बांसवाड़ा-डूंगरपुर से कनकमल कटारा, दौसा से सांसद जसकौर मीणा और टोंक-सवाई माधोपुर लोकसभा सीट से सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया की जगह किसी और को मौका दिया जा सकता है।

पूनिया-राठौड़ को कहां से मिल सकता है टिकट?

नए चेहरों में राजेंद्र राठौड़ को राजसमंद से, सतीश पूनिया को अजमेर या जयपुर ग्रामीण से मौका मिल सकता है। इसके अलावा राखी राठौड़ भी जयपुर ग्रामीण से रेस में है। बांसवाड़ा डूंगरपुर सीट पर कांग्रेस से आए महेंद्रजीत मालवीय को टिकट मिल सकता है। वहीं प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी को फिर से चित्तौड़गढ़, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को कोटा, केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को बीकानेर, झालावाड़ से दुष्यन्त सिंह, जोधपुर से केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, बाड़मेर से केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी को फिर से मौका मिल सकता है। वहीं जयपुर शहर से रामचरण बोहरा फिर से मैदान में उतर सकते हैं।

पहली लिस्ट में 155 सीटों पर हो सकती है घोषणा

बता दें कि दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में देर रात पर प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति (CEC) की बैठक हुई। जिसमें उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, छत्तीसगढ़ सहित डेढ़ दर्जन से ज्यादा राज्यों की 155 सीटों पर मंथन हुआ। करीब चार घंटे तक चली मीटिंग में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री सहित शीर्ष नेता मौजूद रहे। सीईसी मीटिंग से पहले प्रधानमंत्री निवास पर 6 घंटे तक चली बैठक में 21 राज्यों की 300 सीटों पर उम्मीदवारों का पैनल तैयार किया गया।

Related articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

follow on google news

spot_img

Share article

spot_img

Latest articles

Newsletter

Subscribe to stay updated.